एबीजी सीमेंट के बारे में

एबीजी ग्रुप अपने व्यवसाय को सीमेंट और ऊर्जा क्षेत्रों में विस्तारित कर रहा है और इस उद्देश्य के लिए उसने क्रमशः एबीजी सीमेंट लिमिटेड और एबीजी एनर्जी लिमिटेड नामक दो कंपनियॉं शुरू की हैं. इस व्यवसाय के लिए कंपनी के पास पर्याप्त वित्तीय संसाधन हैं और प्लांट के निष्पादन और कार्यान्वन के लिए उत्तम दर्जे के प्रबंधकीय संसाधनों तक भी पहुँच है.

एबीजी सीमेंट की अभिवृद्धि इसके अध्यक्ष, एक अत्यंत सफल उद्यमी श्री ऋषि अग्रवाल द्वारा की जा रही है. वे एबीजी शिपयार्ड और अन्य सहायक कंपनियों/व्यवसायों के भी सम्प्रवर्तक हैं.

एबीजी सीमेंट की अगुआई इसके प्रबंध निदेशक और सीईओ श्री प्रदीप कपूर द्वारा की जा रही है. श्री कपूर 40 से भी अधिक वर्षों से सीमेंट उद्योग से जुड़े हुए हैं.

एबीजी सीमेंट लिमिटेड गुजरात में 6 लाख टन प्रति वर्ष (6एमपीटीए) वाला अति आधुनिक एवं पर्यावरण-हितैषी सीमेंट प्लांट स्थापित करने की प्रक्रिया में है. प्लांट के पास अपनी चूना खानें, जेटी और डीसेलीनेशन प्लांट हैं. इन सभी संयंत्रों की क्षमताएँ प्रति वर्ष 6 लाख टन से अधिक सीमेंट उत्पादन को सहयोग देने के लिए पर्याप्त होंगी. ऊर्जा की आपूर्ति पास ही में स्थित एबीजी एनर्जी लिमिटेड से की जाएगी.

बहुत जल्द एबीजी सीमेंट अपने निर्माण संयंत्रों को भारत के अन्य हिस्सों के साथ साथ अन्य देशों में विस्तारित कर रहा है.

हमारा सीमेंट प्लांट जिस क्षेत्र में आ रहा है वहॉं पर सीमेंट उत्पादन के मूलभूत कच्चे माल चूने की बहुतायत है. इस स्थल की खासियत यह है कि यह एक तटीय क्षेत्र है जो सड़क परिवहन घटाएगा और कच्चे माल एवं तैयार उत्पाद के आयात/निर्यात में सहायक साबित होगा.

एबीजी सीमेंट अपने सीमेंट के उत्पादन के लिए एबीजी एनर्जी लिमिटेड द्वारा उत्पन्न 100% फ्लाय-ऐश (फ्लाय राख, उड़ने वाली राख) को उपयोग करने के प्रति वचनबद्ध है और इसके सभी सीमेंट एवं ऊर्जा प्लांट ऊर्जा की बचत करने वाली तकनीक के साथ तैयार किए गए हैं.

कंपनी ने विभिन्न गतिविधियों के लिए निम्नलिखित विश्व स्तरीय सलाहकार नियुक्त किए हैं : –

  • परियोजना के निष्पादन हेतु प्रमुख परामर्श के लिए मेसर्स होल्टेक कंसल्टिंग प्राइवेट लिमिटेड, नई दिल्ली.
  • पर्यावरण संबंधित सभी पहलूओं के लिए मेसर्स नैशनल एन्वायरमेन्टल इंजीनियरिंग रिसर्च इंस्टिट्यूट (एनईईआरआई), नागपुर
  • हमारे प्रतिबंधित घाट से जुड़े सभी मामलों के लिए मेसर्स वैपकॉस, नई दिल्ली


प्लांट का निर्माण जोर शोर से चल रहा है और प्लांट सन 2011 के अंत तक कार्यान्वन हो जाएगा.